शुक्रवार, 7 अक्तूबर 2011

आज का प्रश्न-१०० question no.100

आज का प्रश्न-१००  question no.100


sciencephoto.com
Qus.no100 : आमतौर पर अम्ल धातुओं से क्रिया करते हैं और हाइड्रोजन गैस बनती है परन्तु सान्द्र नाइट्रिक एसिड एल्युमिनियम से क्रिया नहीं करता सान्द्र नाइट्रिक एसिड को  एल्युमिनियम के पात्र मे भी रखा जा सकता है ऐसा क्यों ?


उत्तर: जैसे ही नाइट्रिक एसिड एल्युमिनियम के सम्पर्क मे आता है तो पहले नाइट्रिक आक्साईड की परत बनती है जो की पात्र की दीवार से चिपक जाती है यह लेयर पुनः नाइट्रिक एसिड को  एल्युमिनियम के सम्पर्क मे आने नहीं देती इस कर के  सान्द्र नाइट्रिक एसिड को  एल्युमिनियम के पात्र मे भी रखा जा सकता है.
आशा जी का जवाब सही है आपका धन्यवाद


फेसबुक मित्रों का बहुत बहुत धन्यवाद 
सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा         

2 टिप्‍पणियां:

आशा ने कहा…

Al2O3 सान्ध्रHNO3 में नहीं घुलता इस लिए इसे अलिमुनियम पात्र में रखा जाता है |पर इसकी
सान्ध्र्ता ९०% से अधिक होना चाहिए |
आशा

आशा ने कहा…

जब सान्ध्र नाइट्रिक अम्ल एलीमुनियम से क्रिया करता है स्वतंत्र नाइट्रेट आयन नहीं देता जिससे एलीमोनियम से क्रिया हो सके |
इस लिए इसे एलिमोनियम कन्टेनरमें रखा जाता है |
आशा