बुधवार, 24 अगस्त 2011

आज का प्रश्न-५७ question no.57

आज का प्रश्न-५७  question no.57
**********************************
Qus.no 57 : किसी रोग की स्थिति मे शारीर का तापमान क्यूँ बढ़ जाता है तापमान बढ़ने की इस क्रिया  को ज्वर Fiver बुखार के नाम से जाना जाता है तो क्या शारीर का तापमान बढ़ना किसी अन्य रोग का लक्षण है या खुद मे एक रोग ?     

**********************************
उत्तर : शरीर का ताप बढना एक तरह की प्रतिरक्षा प्रणाली है ।बुखार पाइरोजेन्स के द्वारा प्रेरित होता है, अधिकांश बैक्टीरिया विषाक्त होते हैं और वे मस्तिष्क के केंद्रीय तापनियंत्रक को प्रेरित कर देते हैं, इनमें से अधिकतर शरीर को आंतरिक पाइरोजेन्स उत्पादन के लिए तैयार करते हैं जो कि एक सामान्य प्रतिरक्षा कार्य है । जब शरीर में कोई संक्रमण होता है तो साइटोकाइन्स नामक पदार्थ पैदा होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली को संक्मण से लड़ने के लिए प्रेरित करता है । 

सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
 Indranil Bhattacharjee जी,आशीष श्रीवास्तव जी,Girijesh Rao आशा जी के जवाब ठीक हैं.
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा   

2 टिप्‍पणियां:

आशा ने कहा…

शरीर का तापमान बढ़ाना किसी अन्य रोग का लक्षण है |
आशा

आशीष श्रीवास्तव ने कहा…

किसी भी बाह्य परजीवी हमले से बचने के लिए की शरीर का पहला आक्रमण है बुखार ! शरीर तापमान बढाकर परजीवीयों को मारने का प्रयास करता है।