शुक्रवार, 10 फ़रवरी 2012

आज का प्रश्न-201 question no-201

आज का प्रश्न-201 question no-201
प्रश्न-201: चित्र के षट्भुज मे कुल कितने त्रिभुज छिपे हैं ?
उत्तर : इस प्रकार के प्रश्नों को हल करने की विशेष विधि होती है क्यूंकि काफी त्रिभुज छिपे हैं जो आकृति को ध्यान से देखने पर ही दिख सकते हैं 
कुल त्रिभुज हैं 37 सैंतीस 

  आशा जी का और फेसबुक मित्रों का बहुत बहुत धन्यवाद 
सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा  

3 टिप्‍पणियां:

Asha Saxena ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Asha Saxena ने कहा…

कुल २५ त्रिभुज छिपे हैं इस में
आशा

बेनामी ने कहा…

विज्ञान की प्रमुख शाखाएँ

आंतरिक्ष विज्ञान- आंतरिक्ष यात्रा एवं संबंधित विषय
आक्थायोलॉजी -मछलियां एवं संबंधित विषय
आस्टियोलॉजी- अथियों (हड्डियों) का अध्ययन
आर्निन्थोलॉजी- पक्षियों से संबंधित विषय
ऑप्टिक्स- प्रकाश का गुण एवं उसकी संरचना
इकोलॉजी- परिस्थितिकी का अध्ययन
इक्क्राइनोलॉजी- गुप्त सूचनाएं एवं संबंधित विषय
एनाटॉमी- मानव-शरीर की संरचना
एयरोनॉटिक्स- विमानों की उड़ान
एस्ट्रोनॉमी- तारों एवं ग्रहों से संबंधित विषय तथा आकाशीय पिंडों का अध्ययन
एग्रोलॉजी- भूमि (मिट्‌टी) का अध्ययन
एंटोमोलॉज-कीट एवं संबंधित विषय
एरेक्नोलॉजी- मकड़े एवं संबंधित विषय
एम्ब्रायोलॉजी- भ्रण एवं संबंधित विषय
ओशनोग्राफी- समुद्र से संबंधित विषय
कॉस्मोलॉजी- ब्रम्हांड का अध्ययन
क्रिप्टोग्रॉफी- गुप्त लेखन अथवा गूढ लिपि
गायनोकोलॉजी- मादाओं के प्रजनन अंगों का अध्ययन
जियोलॉजी- पृथ्वी की आंतरिक्ष संरचना
जेम्मोलॉजी- रत्नों का अध्ययन
टेराटोलॉजी- ट्‌यूमर का अध्ययन
टैक्टोलॉजी- पशु – शरीर का रचनात्मक संघटन
डर्मेटोलॉजी- त्वचा एवं संबंधित रोगों का अध्ययन
डेन्ड्रोलॉजी- वृक्षों का अध्ययन
डेक्टाइलॉजी- अंकों (संख्याओ) का अध्ययन
न्यूरोलॉजी- नाड़ी स्पंदन एवं संबंधित विषय
न्यूमिसमेटिक्स- मुद्रा – निर्माण एवं अंकन
पैथोलॉजी- रोगों के कारण एवं संबंधित विषय
पैलिओंटोलॉजी- जीवाश्म एवं संबंधित विषय
पैरासाइटोलॉजी- परजीवी वनस्पतियां एवं जीवाणु
फायनोलॉजी- जीव-जन्तुओं का जातीय विकास
ब्रायोलॉजी- दलदल एवं कीचड का अध्ययन
बैलनियोलॉजी- खनिज निष्कासन एवं संबंधित विषय
जीव विज्ञान (बायलॉजी)- जीवधारियों का शारीरिक अध्ययन
बॉटनी- पौधों का अध्ययन
बैक्टीरियोलॉजी- जीवाणुओं से संबंधित विषय
मारफोलॉजी- जीव एवं भौतिक जगत्‌ की आकारिकी का अध्ययन
मिनेरालॉजी- खनिजों का अध्ययन
मेटेरोलॉजी- वातावरण एवं संबंधित विषय
माइका्रेलॉजी फफूंद एव संबंधित विषय
मायोलॉजी- मांस-पेशियों का अध्ययन
रेडियोबायोलॉजी- जीव-जंतुओं पर सौर विकिरण का प्रभाव
लिथोलॉजी- चट्टानों एवं पत्थरो से संबंधित विषय
लिम्नोलॉजी- झीलों एवं स्थलीय जल भागों का अध्ययन
सीरोलॉजी- रक्त सीरम एवं रक्त आधान से संबंधित
स्पलैक्नोलॉजी- शरीर के आंतरिक अंग एवं संबंधित
स्पेस बायलोजी- पृथ्वी से परे आंतरिक में जीवन की सम्भावना का अध्ययन
हीमेटोलॉजी- रक्त एवं संबंधित विषयों का अध्ययन
हेलियोलॉजी- सूर्य का अध्ययन
हरपेटोलॉजी- सरीसूपों का अध्ययन
हिस्टोलॉजी- शरीर के ऊतक एवं संबंधित विषय
हिप्नोलॉजी- निद्रा एवं संबंधित विषयों का अध्ययन