बुधवार, 26 अक्तूबर 2011

आज का प्रश्न-119 question no-119

आज का प्रश्न-119 question no-119
प्रश्न-119 : 'अक्ल बड़ी या भैंस ' का तर्क प्रस्तुत करो ?
उत्तर : तर्क - 1 भैंस बडी होती है ! अब देखो भैंस का वजन, और अकल का वजन !
उपर से भैंस कम से कम २ लीटर दूध भी देती है , वो भी घास फूस खाकर ! अकल से काम करेंगे तो भूखो मर जायेंगे ।
तर्क - 2 यदि अक्ल ना हो तो दूध कैसे निकालोगे?? इसलिए अक्ल ही बड़ी है ना!! 
तर्क - 3 कभी-कभी मजबूरी में मूर्खतापूर्ण वादा करना पड़े, तो उसे पूरा करने का कोई  अकलमंदी  भरा रास्ता खोजना चाहिए इसलिए अक्ल ही बड़ी है ना ! 
तर्क - 4 मंगल भवन अमंगल हारी- भैंस सदा ही अकल पे भारी
भैंस मेरी जब चर आये चारा- पाँच सेर हम दूध निकारा
कोई अकल ना यह कर पावे- चारा खा कर दूध बनावे
अक्ल घास जब चरने जाये- हार जाय नर अति दुख पाये
तर्क - 5 मेरे घर के गेट से मेरी अकल के साथ मै भी अंदर जा सकता हूं, लेकिन भैंस के लिए वह संकरा है। इससे सिद्ध होता है कि भैंस अकल से बड़ी होती है।
तर्क - 6 अकल बड़ी या भैस यह तो जरूर मालूम है आकार में भैस और कोइ महत्त्व पूर्ण निर्णय लेना हो तब अक्ल |दौनों का अपनी अपनी जगह महत्त्व है |
तर्क - 7 मोटी रेखा ने दुबले-पतले विनय से कहा : तुमसे मैंने पहले ही कहा था कि मेरी बात मान जाओ। अब बताओ ,अक्ल बड़ी या भैंस। 
विनय ने हाथ जोड़ते हुए कहा : भैंस।
 तर्क - 8 मास्टर जी ने वर्ग में पूछा, "भागीरथ ! तुम मुझे ये बताओ कि अक्ल बड़ी या भैंस ?" 
भागीरथ बोला, "अरे मास्टर जी ! इस में कौन सी बड़ी बात है ? आप दोनों का डेट ऑफ़ बर्थ पता कीजिये ! फिर आप खुद भी समझ सकते हैं कि 'अक्ल बड़ी या भैंस'।" 
तर्क - 9 लंदन के बकडन में नताशा और उनकी चार वर्षीय बेटी सीलोए की एक साल की पालतू बिल्ली, टिग्स अचानक गायब हो गई। उन्होंने उसे काफी ढूंढा लेकिन पता नहीं चला। पांच दिन के बाद उन्हें उसके रोने की आवाज पेड़ के झुरमुट से सुनाई दी। उन्होंने उसे पेड़ से उतारने के लिए फायर ब्रिगेड को बुलाया। लेकिन 45 फीट की सीढ़ी सौ फीट ऊंचे पेड़ तक पहुंचने के लिए छोटी पड़ गई। बचाव दल का कहना था कि रेडवुड पेड़ की घनी शाखाओं के कारण सीढ़ी को सीधे खड़ा कर पाने में परेशानी हो रही थी। उन्होंने लगातार दो दिन सीढ़ी लगाकर बिल्ली को उतारने की तमाम कोशिशें की, लेकिन कामयाब नहीं हो सके। फिर वन विभाग की मदद ली गई, जिसका एक कर्मचारी 15 मिनट में पेड़ पर चढ़कर बिल्ली को सुरक्षित उतार लाया। ऐसे में ही यह सवाल पैदा हुआ कि अक्ल बड़ी या भैंस? टिग्स को सुरक्षित पाकर मां-बेटी की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने बताया कि सात दिन तक पेड़ पर रहने के कारण बिल्ली काफी कमजोर हो गई है।
तर्क - 10 संता: बताओ अक्ल बड़ी या भैंस ?
बीवी : पहले डेट ऑफ बर्थ तो बताओ ।
आशीष श्रीवास्तव जी का धन्यवाद
आशा जी का धन्यवाद
फेसबुक मित्रों का बहुत बहुत धन्यवाद 
सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा   

4 टिप्‍पणियां:

आशीष श्रीवास्तव ने कहा…

मेरे घर के गेट से मेरी अकल के साथ मै भी अंदर जा सकता हूं, लेकिन भैंस के लिए वह संकरा है। इससे सिद्ध होता है कि भैंस अकल से बड़ी होती है।

आशा ने कहा…

अकल बड़ी या भैस यह तो जरूर मालूम है आकार में भैस और कोइ महत्त्व पूर्ण निर्णय लेना हो तब अक्ल |दौनों का अपनी अपनी जगह महत्त्व है |आपको दीपावली की हार्दिक शुभ कामनाएन
आशा

ePandit ने कहा…

भैंस बड़ी है क्योंकि उसका साइज आदमी से बड़ा होता है जबकि अक्ल आदमी के दिमाग में होती है जो कि छोटे से सिर के अन्दर है।

ePandit ने कहा…

एक बार मास्टर जी ने राजू से कहा - राजू यदि तुम्हें अक्ल और भैंस में से एक चीज लेने को कहा जाय तो तुम क्या चुनोगे?

राजू - जी भैंस।

मास्टर जी - मैं तुम्हारी जगह होता तो अक्ल चुनता।

राजू - वही तो मास्टर जी, जिसके पास जो चीज नहीं होगी वही तो लेगा।