रविवार, 14 अगस्त 2011

आज का प्रश्न-४७ question no.47

आज का प्रश्न-४७  question no.47

**********************************

Qus.no 47 : बार बार पृथ्वी पर महाविलुप्तिकरण sixth mass extinction की भविष्यवाणी क्यों की जाती हैं पृथ्वी पर छटा महाविलुप्तिकरण का दौर शुरू हो चुका है वैज्ञानिक ऐसा किस बिनाह पर कहते हैं?
********************************
उपर बाईं तरफ हैडर के नीचे मनपसंद गीत संगीत भी कभी कभी पोस्ट किया जाता है सुने शायद आपको भी पसंद आये.   दर्शन बवेजा
उत्तर: पृथ्वी पर पहले पांच बार महाविलुप्तिकरण mass extinction हो चुका है और जिस दर से अब पृथ्वी से प्रजातियों काविलुप्तिकरण हो रहा है टो वैज्ञानिकों का यह मानना है कि ऐसा होगा जरूर.
आशीष श्रीवास्तव जी  ने कहा…

पृथ्वी पर भूपटल की विभिन्न तह मे पाये गये जीवाश्मों की जांच से पता चलता है कि पृथ्वी पर पांच बार जीवन विलुप्त हुआ है। सबसे निचली परत पर कुछ जीवाश्म मिले है, उसके उपर की एक परत पर जीवाश्म नही है।
इस परत के उपर फिर से जीवाश्म मिले है।


इस तरह जीवन और जीवन रहित परत की पांच तहे मिली है जिससे अनुमान लगाया जाता है कि पृथ्वी पर पांच बार जीवन विलुप्त हुआ है जिसे mass extinction कहते है।
ध्यान दें कि सभी वैज्ञानिक इससे सहमत नही है।  

सही जवाब के लिए  आशीष श्रीवास्तव जी का धन्यवाद 
फेस बुक मित्रों Jaideep Purohit व गूगल + के भी मित्रों का जवाब देने के लिए शुक्रिया.
सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा        

2 टिप्‍पणियां:

आशीष श्रीवास्तव ने कहा…

पृथ्वी पर भूपटल की विभिन्न तह मे पाये गये जीवाश्मों की जांच से पता चलता है कि पृथ्वी पर पांच बार जीवन विलुप्त हुआ है। सबसे निचली परत पर कुछ जीवाश्म मिले है, उसके उपर की एक परत पर जीवाश्म नही है।

इस पर के उपर फिर से जीवाश्म मिले है।

इस तरह जीवन और जीवन रहित परत की पांच तहे मिली है जिससे अनुमान लगाया जाता है कि पृथ्वी पर पांच बार जीवन विलुप्त हुआ है जिसे mass extinction कहते है।

ध्यान दें कि सभी वैज्ञानिक इससे सहमत नही है।

अन्तर सोहिल ने कहा…

आदरणीय बवेजा जी नमस्कार

उपर बाईं तरफ हैडर के नीचे मनपसंद गीत संगीत भी कभी कभी पोस्ट किया जाता है सुने शायद आपको भी पसंद आये. दर्शन बवेजा

कृप्या उपरोक्त पंक्ति को पोस्ट के बीच से हटा दिया करें। इसके लिये कहीं दूसरी अच्छी जगह का चुनाव करें या पोस्ट में सबसे नीचे अलग फॉंट और रंग में लिखें।

आशा है इस अनुरोध का आपको बुरा नहीं लगेगा।

प्रणाम