मंगलवार, 5 जुलाई 2011

आज का प्रश्न-७ question no.7


आज का प्रश्न-७ question no.7

*********************************

Qus.no.7 :- भारत को विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र क्यूँ कहा जाता है ? 


*********************************

उपर बाईं तरफ हैडर के नीचे मनपसंद गीत संगीत भी कभी कभी पोस्ट किया जाता है सुने शायद आपको भी पसंद आये. 
दर्शन बवेजा
उत्तर: हम अपनी सिर्फ विशाल जनसंख्या के कारण ही बड़ा लोकतंत्र नहीं है चीन की जनसंख्या हम से जयादा है ये इसलिए है कि हम भारतीय ग्राम पंचायत से ले कर संसद तक 31 लाख जनप्रतिनिधि चुनते हैं जिनमे  22 लाख जनप्रतिनिधि पंचायती राज संस्थाओं के लिए ही चुने जाते हैं और ट्रेड यूनियनों जनप्रतिनिधि के अभी इस मे शामिल नहीं. इस प्रकार हम देखते हैं कि प्रत्येक 400 आबादी का प्रतिनिधित्व करने के लिए जनता का चुना हुआ एक जनप्रतिनिधि अवश्य है. दुनिया का कोई और लोकतंत्र ऐसा कहाँ है जो इतने अधिक जनप्रतिनिधियों के द्वारा संचालित है.
बोलो है ना ?
आशीष श्रीवास्तव जी और Ankit.....................the real scholar जी का सही उत्तर देने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद .
सभी टिप्पणी कर्ताओं का जी धन्यवाद
प्रस्तुति: सी.वी.रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर हरियाणा      

5 टिप्‍पणियां:

बेनामी ने कहा…

सबसे ज्यादा नेता लोग हैं इसलिए :)

राज भाटिय़ा ने कहा…

सिर्फ़ कहा ही जाता हे असल मे हे नही....आप का जबाब.... इस लिये सब से बडा लोंक तंत्र कहा जाता हे कि लोगो को झुठ बोलने मे ज्यादा मजा आता हे:)

आशीष श्रीवास्तव ने कहा…

यहां पर विश्व मे सबसे ज्यादा मतदाता मतदान मे भाग लेते है। हर मतदाता को इस मतदान मे उम्मीदवार बनने की आजादी है।

विश्व मे सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले देश चीन मे इस तरह की व्यवस्था नही है, वहां पर एक ही पार्टी के उम्मीदवार चुनाव मे खड़े हो सकते है।

दूसरे क्रमांक का सबसे बड़ा लोकतंत्र संयुक्त राज्य अमरीका है जहां पर मतदाताओ की दूसरी सबसे बड़ी संख्या है।

Ankit.....................the real scholar ने कहा…

विश्व में जितने भी लोकतान्त्रिक देश हैं उनमे से समसे ज्यादा मतदाता भारत में हैं इस लिए भारत को विश्व का सबसे बड़ा लोकतान्त्रिक देश कहा जाता है |

बेनामी ने कहा…

ओ जी बवेजा जी हम से जयादा कोन जानता है इस बात को इनके चुनाव करवा करवा कर हम बूढ़े हो लिए :)